BRICS: पीएम मोदी ने राष्ट्रपति रामाफोसा को भेंट की बीदरी सुराही, प्रथम महिला को नगा शॉल; जानें इनकी खासियत


Bidri Surahi
– फोटो : ANI

विस्तार


जोहानिसबर्ग में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से इतर प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामाफोसा और प्रथम महिला त्शेपो मोत्सेपे को उपहार भेंट किए। पीएम मोदी ने राष्ट्रपति रामाफोसा को तेलंगाना की मशहूर धातु शिल्प बीदरी सुराही गिफ्ट की। वहीं, दक्षिण अफ्रीका की प्रथम महिला डॉ. त्शेपो मोत्सेपे (Tshepo Motsepe) को नगालैंड शॉल भेंट की।

बीदरी सुराही शुद्ध भारतीय आविष्कार है। इसकी शुरुआत विशेष रूप से कर्नाटक के बीदर से हुई थी। बीदरी को जस्ता, तांबे और अन्य अलौह धातुओं के मिश्र धातु के साथ ढाला जाता है। ढलाई पर सुंदर पैटर्न उकेरे गए हैं और शुद्ध चांदी के तार जड़े जाते हैं।

नगा शॉल एक उत्कृष्ट हस्तशिल्प कला है। नगालैंड के जनजातीय समुदाय इसे सदियों से बनाते हैं। यह शॉल अपने जीवंत रंगों, जटिल डिजाइन और पारंपरिक बुनाई तकनीकों के उपयोग के लिए जानी जाती है, जो पीढ़ी दर पीढ़ी चली आ रही है।

पीएम ने ब्राजील के राष्ट्रपति को भेंट की मध्यप्रदेश की गोंड पेंटिंग  

वहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में भाग लेने आए ब्राजील के राष्ट्रपति लूला दा सिल्वा को मध्यप्रदेश की गोंड पेंटिंग उपहार में दी। गोंड पेंटिंग मध्यप्रदेश की मशहूर जनजातीय कला के रूप में जानी जाती है। गोंड जनजाति समुदाय के लोगों के अपने घरों की दीवारों और फर्शों पर बिंदुओं और रेखाओं को उकेर कर यह पेंटिंग बनाते हैं। इसमें प्राकृतिक रंगों और अन्य सामग्रियों जैसे लकड़ी का कोयला, रंगीन मिट्टी, पौधों के रस, पत्तियों, गोबर, चूना पत्थर के पाउडर का इस्तेमाल किया जाता है।